कार्य संस्कृति

सी-डॉट की स्थापना भारतीय परिवेश में उच्च उत्पादकता, दक्षता और बेहतर जीवनशैली के लिए जनप्रबंधन के मॉडल के रूप में की गई। सी-डॉट में लगभग 1000 इंजीनियर कार्यरत हैं। मानव संसाधन विकास ने इसकी स्थापना से ही एक बेहतर तादात्म्य स्थापित करने के लिए एक उत्प्रेरक का काम किया है ताकि अलग-अलग प्रतिभाओं और सीमा के कर्मचारी सर्वोत्तम परिणाम के लिए एक-दूसरे के पूरक बन सकें। सी-डॉट में मानव संसाधन का उद्देश्य लोगों और व्यावसायिकता के प्रति वचनबद्धता पर आधारित उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए अनुकूल माहौल और संस्कृति का निर्माण करना रहा है।

मानव संसाधन प्रबंधन में कर्मचारियों के विकास और सीखने के माहौल के माध्यम से उनकी प्रतिभा में निखार लाने को अत्यंत महत्व दिया जाता है। सी-डॉट के कार्यकलाप और कार्यपद्धति को इस तरह से विकसित किया गया है कि सभी सदस्यों में गौरव तथा संतोष की भावना विकसित हो, सर्वश्रेष्ठ योगदान देने की इच्छा हो, व्यक्तिगत प्रभाव बढ़ाने, कार्य की गुणवत्ता में सुधार लाने तथा कैरियर विकास के साथ -साथ कर्मचारियों को बेहतर व्यक्ति बनाने के लिए तैयारी करना शामिल है।

सी-डॉट में मानव संसाधान की विभिन्न नीतियां और प्रक्रियाएं विश्वास, देखभाल और सशक्तिकरण के सिद्धांतों पर आधारित है। कर्मचारियों में अत्याधिक विश्वास, प्रचालन, कार्य घंटों में लचीलेपन तथा स्वघोषणा पर विभिन्न व्ययों की प्रतिपूर्ति जैसी सुविधाओं से परिलक्षित होता है।

सी-डॉट का कर्मचारी सशक्तीकरण का सिद्धांत विभिन्न योजनाओं, समीक्षा और निगरानी समितियों में कर्मचारी को शामिल करने खुली तथा पारदर्शी प्रणाली द्वारा परिलक्षित होता है, जहां अधिकांश निर्णय (अर्थात पदोन्नति पुरस्कार) आदि अलग-अलग टीमों द्वारा दिये जाते हैं। वित्तीय तथा प्रशासनिक अधिकारों को प्रचालन स्तर पर प्रत्यायोजित किया गया है।

सी-डॉट का संगठन समतावादी सिद्धांतों पर आधारित है जो व्यावसायिकता, खुलेपन, कर्मचारी के लिए सम्मान, रचनात्मकता, नवीनता, प्रतिस्पर्द्धा और चुनौती को बढ़ावा देता है तथा जनअभिमुखीकरण और आत्मविकास को महत्व देता है। विभिन्न प्रणालियां, नीतियां तथा व्यवसाय योजनाएं, उत्पाद योजनाएं पूरी तरह निर्धारित हैं तथा लैन के जरिये इन तक सबकी पहुँच है।

सी-डॉट संस्कृति के दस मार्गदर्शक

  • समान व्यवहार : प्रत्येक के कामकाज का सम्मान करना और पद तथा सामाजिक स्थिति के आधार पर कोई भेदभाव नहीं करना ।
  • साहसी नवाचार : नवीनता के लिये अपनी सीमाओं का विस्तार करना, जड़ता को चुनौती देना, बौद्धिक संपदा सर्जन और सर्वश्रेष्ठ कार्यान्वयन को प्रोत्साहित करना ।
  • कार्यनिष्पादन का सम्मान और अपेक्षा करना : निरंतर उन्नयन के लिये दक्षता में लगातार सुधार लाना और  उत्तम कार्यनिष्पादन के लिये बेहतर तरीके अपनाना ।
  • लक्ष्य-प्राप्ति के लिए जुनून : असाधारण लक्ष्य प्राप्ति तक दायित्व भावना रखते हुए पूरे जोश और जूनून के साथ कथनी और करनी में बिना किसी अंतर के अनुकरणीय व्यवहार ।
  • उदारता और सहभागिता : किसी भी प्रश्न के लिये तैयार रहना तथा सकारात्मक मतभेद सहर्ष स्वीकार करना एवं विनम्र, निश्चयपूर्ण और रचनात्मक भूमिका के द्वारा सहभागिता प्रदान करना ।
  • ईमानदारी, पारदर्शिता और नैतिकता : विश्वास और वचनबद्धता का माहौल बनाना, संसाधनों का उपयोग जिम्मेदारी और किफायत से करना, सदाचारी व्यवहार के उच्च आदर्शों का प्रत्यक्ष पालन करना ।
  • उपभोक्ता उन्मुख और परस्पर हितकारी माहौल बनाना : उपभोक्ता और ग्राहक को सुखद, भरोसेमंद और सुविधाजनक अहसास देने के लिए कर्मचारी और उनकी टीम को अपनी क्षमता से आगे बढ़कर कार्य करने को प्रेरित करना ।
  • अफसरशाही व्यवहार से दूरी : नियमों और कानून की पेचीदगी में उलझाने की बजाय बेहतर नतीजों के हित में संगठन के उद्देश्यों और लक्ष्यों के अनुरूप आवश्यक परिवर्तन और सुधार लाना ।
  • सीखना और योगदान : समाज के प्रति योगदान और उपयोगी वैज्ञानिक प्रकाशन के माध्यम से अग्रणी विशेषज्ञ के रूप में स्थापित होने के लिये शिक्षित और प्रशिक्षित होने का निरंतर प्रयास करना ।
  • सर्वत्र गुणवत्ता : प्रक्रिया में निरंतर सुधार करना, प्रथम प्रयास में सही कार्य करने के लिए आत्म-प्रेरित दृष्टिकोण, कार्यान्वयन की सर्वोत्तम परंपरा और वैश्विक मानदंड विकसित करना और अपनाना ।

 कर्मचारी विकास

सी-डॉट कर्मचारियों को बहुकार्यात्मक दायित्व निभाने के लिए उनको अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी, साधन और उपकरणों पर काम करने का मौका देकर सीखने के अवसर उपलब्ध कराता है। कर्मचारियों को अंतर्राष्ट्रीय प्रदर्शनियों और सेमीनारों में भाग लेने का अवसर मिलता है। सी-डॉट अंतर्राष्ट्रीय दूरसंचार संघ- आईटीएम, एटीएम फोरम, ऑबजेक्ट मैनेजमेंट ग्रुप, टेलीकम्यूनिकेशनस इन्फरमेशन नेटवर्किंग आर्किटेक्चर कन्सोरटियम, फ्रेम रिले फोरम इत्यादी जैसी अंतराष्ट्रीय निकायों का सदस्य है। इसके अलावा सी-डॉट राष्ट्रीय और अंतराष्ट्रीय निकायों की व्यक्तिगत सदस्यता लेने के लिए भी कर्मचारियों को प्रोत्साहित (और प्रायोजित) करता है। किसी भी अनुसंधान और विकास कार्यकलाप के लिए आधुनिकतम वैज्ञानिक और तकनीकी जानकारी अत्यंत महत्वपूर्ण होती है। सी-डॉट परिसर में समृद्ध पुस्तकालय सुविधा है जिसमें तीस हजार से अधिक पुस्तकें, 300 पीरियोडिकल तथा पत्रिकाएं, 20 समाचार पत्र, न्यूज लैटर तथा सम्मेलनों की जानकारियां उपलब्ध हैं। सी-डॉट पुस्तकालय में सीडी-रोम डाटा बेस, सीडी-नेट प्रणालियां, वीडियो/ऑडियो टेप, माइक्रोफिशस/फिल्में, कारटेज इत्यादि जैसी सुविधाएं भी उपलब्ध हैं। प्रयोक्ता अपने डैस्क से ही पुस्तकालय सूचना प्रणाली का लाभ उठा सकता है।

प्रशिक्षण तथा शिक्षण के लिए अवसर : कर्मचारियों को शिक्षण और प्रशिक्षण के अवसर देने के लिए प्रशिक्षण प्रायोजित करने में कोई बजटीय प्रतिबंध नहीं है। भावी प्रौद्योगिकियों के क्षेत्र में नियमित रूप से इनहाऊस प्रशिक्षण कार्यक्रम तथा कौशल और प्रतिभा विकास के लिए शिक्षण और प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित होते रहते हैं। कर्मचारियों को एम. टैक, पी.एच.डी तथा इन हाउस पोस्टग्रेजुएट डिप्लोमा ऑन टैक्नॉलजी मैनेजमेंट (एमबीए के समकक्ष) जैसे पाठयक्रम पार्टटाईम करने की अनुमति तथा उन्हें प्रायोजित करने आदि से शिक्षण और प्रशिक्षण के अवसर उपलब्ध कराए जाते हैं।

कार्य के अनुकूल माहौल उपलब्ध कराने के साथ-साथ सी-डॉट कैरियर ग्रोथ के लिए भी अवसर देता है। सी-डॉट प्रोफेशनल्स को अपने-अपने क्षेत्रों में विशेषज्ञ बनने अथवा प्रबंधकीय भूमिका निभाने का अवसर देता है। वेतनमान प्रोन्नति तथा उत्तरदायित्व प्रोन्नती को सी-डॉट में आपस में जोड़ा नहीं गया है। इससे कर्मचारियों को कम वेतनमान में कार्यभार ग्रहण करने के बावजूद अधिक उत्तरदायित्व निभाने (अथवा विलोमतः) का अवसर मिलता है।

कर्मचारियों को परिलब्धियां तथा लाभ

  • मकान किराया भत्ता की एवज में लीज सुविधा
  • वाहनः पिकअप तथा ड्रॉप के लिए सब्सिडी युक्त वाहन सुविधा। कर्मचारी द्वारा स्वयं अपने वाहन (कार अथवा स्कूटर) का प्रयोग करने कर मासिक रुप से पैट्रोल की प्रतिपूर्ति तथा वाहन रखरखाव भत्ता निर्धारित सीमा के अंदर प्रदान किया जाता है।
  • बाल-शिक्षण भत्ता
  • मासिक समाचार व्यय की प्रतिपूर्ति
  • कार्यात्मक आधार पर टेलीफोन तथा इंटरनेट कनैक्शन व्यय की प्रतिपूर्ति
  • छुट्टी यात्रा रियायत
  • व्यावसायिक निकाय (राष्ट्रीय तथा अंतराष्ट्रीय) सदस्यता शुल्क की प्रतिपूर्ति
  • व्यावसायिक पुस्तकें और पत्रिकाओं की खरीद के लिए प्रतिपूर्ति की सुविधा

 वर्तमान जनशक्ति

 भर्ती प्रक्रिया

सी-डॉट आमतौर पर अनुसंधान और विकास तथा समर्थन कार्यों के लिए प्रवेश-स्तर पर भर्ती करता है। नए कर्मचारियों को उनकी पृष्ठभूमि, अभिरूचि और रूझान तथा संगठनात्मक आवश्यताओं के अनुसार विभिन्न कार्यों में लगाया जाता है। अनुसंधान अभियनताओं (कम्पयूटर विज्ञान/ इलैक्ट्रॉनिकस तथा संचार) की भर्ती निम्नानुसार की जाती हैः-

  • कैम्पस साक्षात्कार
  • रैंक होल्डर्स को सीधे पेशकश
  • खुले विज्ञापन/अखिल भारतीय परीक्षाएं

सी-डॉट भारत सरकार की आरक्षण नीति के निर्देशों का अनुसरण करता है ।

 वर्तमान रिक्तियां

क्रमांक पद खुलने की तिथि अंतिम तिथि विज्ञापन आवेदन